NCERT Solutions for Class 8 Hindi Chapter 18 - Topi

Chapter 18 - Topi Exercise प्रश्न-अभ्यास

Solution 1

गवरइया और गवरा के बीच आदमी के वस्त्र पहनने को लेकर बहस हुईगवरइया वस्त्र पहनने के पक्ष में थी तथा गवरा विपक्ष में थागवरइया को आदमी द्वारा रंग-बिरंगे कपड़े पहनना अच्छा लग रहा था जबकि गवरा का कहना था कि कपड़ा पहन लेने के बाद आदमी और बदसूरत लगने लगता हैकपड़े पहन लेने के बाद आदमी की कुदरती ख़ूबसूरती ढँक जाती हैउसी बहस के दौरान गवरइया ने अपनी टोपी पहनने की इच्छा को व्यक्त कियाउसकी इच्छा तब पूरी हुई जब एक दिन घूरे पर चुगते-चुगते उसे रुई का एक फाहा मिल गया 

Solution 2

टोपी बनवाने के लिए गवरइया धुनिया, कोरी, बुनकर और दर्जी के पास गईधुनिया के पास रुई धुनवा कर वह उसे लेकर कोरी के पास जा पहुँचीउसे कोरी से कतवा लियाकते सूत को लेकर वह बुनकर के पास गई उससे बुनकर से कपड़ा बुनवायाकपड़े को लेकर वह दर्जी के पास गईउसने उस कपड़े से गवरइया की टोपी सिल दी 

Solution 3

गवरइया की टोपी पर दर्जी ने पाँच फुँदने लगाए क्योंकि दर्जी को वाजिब मजदूरी मिली थी, जिससे वह खुश थादर्जी राजा औए उसके सेवकों के कपड़े सिलता था जो उसे बेगार करवाते थेलेकिन गवरइया ने अपनी टोपी सिलवाने के बदले में दर्जी को मजदूरी स्वरूप आधा कपड़ा दिया 

Solution 4

सफलता के लिए उत्साह आवश्यक हैकहा भी गया है कि मन के हारे हार है मन के जीते जीतउत्साह से ही हमारे मन में किसी भी कार्य के प्रति जागरूकता उत्पन्न होती हैयदि हम किसी भी कार्य को बेमन से करेंगे तो निश्चय ही हमें उस कार्य में पूर्णतया सफलता नहीं मिलेगी 

Solution 5

टोपी पहनकर गवरइया राजा को दिखाने पहुँची जबकि उसकी बहस गवरा से हुई और वह गवरा के मुँह से अपनी बड़ाई सुन चुकी थी लेकिन राजा से उसकी कोई बहस हुई ही नहीं थी फिर भी वह राजा को चुनौती देने को पहुँची क्योंकि गवरा ने बहस के दौरान कहा था कि टोपी मात्र राजा ही पहनता है यह बात उसे अच्छी नहीं लगी थी 

Solution 6

यदि राजा के राज्य के सभी कारीगर अपने-अपने श्रम का उचित मूल्य प्राप्त कर रहे होते तब गवरइया के साथ उन कारीगरों का व्यवहार सामान्य होता और सर्वप्रथम वे राजा का काम करते क्योंकि उनका काम ज्यादा था 

Solution 7

चारों ने राजा का काम रोककर गवरइया का काम किया क्योंकि उन लोगों को काम की वाजिब मजदूरी मिली थी, जिससे वे सब खुश थे 

Chapter 18 - Topi Exercise भाषा की बात

Solution 1

 

क्षेत्रीय भाषा 

मूल रूप 

घइला 

घड़ा 

लइकी 

लड़की 

भीख 

भिक्षा 

तरकारी 

सब्जी 

भात 

चावल 

 

Solution 2

मुहावरा 

अर्थ 

टोपी उछलना 

बेइज्ज्ती होना 

टोपी से ढ़ँक लेना 

इज्ज़त ढ़क लेना 

टोपी कसकर पकड़ना 

सम्मान बचना