NCERT Solutions for Class 8 Hindi Chapter 16 - Paani ki kahani

Chapter 16 - Paani ki kahani Exercise प्रश्न-अभ्यास

Solution 1

लेखक को बेर की झाड़ी पर ओस की बूँद मिली।  

Solution 2

पेड़ों की जड़ों में निकले रोएँ द्वारा जल की बूँदों को बलपूर्वक धरती के भूगर्भ से खींच लानाउनको खा जाना याद करते ही बूँद क्रोधघृणा से काँप उठी

Solution 3

जब ब्रह्मांड में पृथ्वीउसके साथी ग्रहों का उद्भव भी नहीं हुआ था तब ब्रह्मांड में हाइड्रोजन व ऑक्सीजन दो गैसें सूर्यमंडल में लपटों के रूप में विद्यमान थींऑक्सीजनहाइड्रोजन के बीच रासायनिक क्रिया हुईदोनों के संयोग से पानी का जन्म हुआइसलिए बूँद ने इन दोनों को अपना पूर्वज कहा है 

Solution 4

पानी का जन्म (ह्द्रजन) हाइड्रोजन व (ओषजन) ऑक्सीजन के बीच रासायनिक प्रक्रिया द्वारा होता हैजब ब्रह्मांड में पृथ्वीउसके साथी ग्रहों का उद्भव भी नहीं हुआ था तब ब्रह्मांड में हाइड्रोजन व ऑक्सीजन दो गैसें सूर्यमंडल में लपटों के रूप में विद्यमान थींकिसी उल्कापिंड के सूर्य से टकराने से सूर्य के टुकडें कड़े हो गए उन्हीं टुकड़ों में से एक टुकड़ा पृथ्वी रूप में उत्पन्न हुआ और इसी ग्रह में ऑक्सीजनहाइड्रोजन के बीच रासायनिक क्रिया हुई और दोनों के संयोग से पानी का जन्म हुआ

सर्वप्रथम बूँद भाप के रूप में पृथ्वी के वातावरण में ईद-गिर्द घूमती रहती है, तत्पश्चात ठोस बर्फ के रूप में विद्यमान हो जाती हैसमुद्र से होती हुई वह गर्म-धारा से मिलकर ठोस रूप को त्यागकर जल का रूप धारण कर लेती है

Solution 5

कहानी के अंत और आरंभ के हिस्से को पढ़कर यह पता चलता है कि ओस की बूँद सूर्य उदय की प्रतीक्षा कर रही थी 

Solution 6

समुद्र के तट पर बसे नगरों में अधिक ठंड और अधिक गरमी नहीं पड़ती क्योंकि वहाँ के वातावरण में सदा नमी होती है 

Solution 7

पेड़ के भीतर फव्वारा नहीं होता तब पेड़ की जड़ों से पत्ते तक पानी पहुँचता है क्योंकि पेड़ की जड़ोंतनों में जाइलम और फ्लोएम नामक वाहिकाएँ होती हैं जो पानी जड़ों से पत्तियों तक पहुँचाती हैंइस क्रिया को वनस्पति शास्त्र में 'संवहन' (ट्रांसपाईरेशन) कहते हैं

Chapter 16 - Paani ki kahani Exercise भाषा की बात

Solution 1

1. आगे एक और बूँद मेरा हाथ पकड़कर ऊपर खींच रही थी। 

    पकड़कर - सबंध कारक 

2. हम बड़ी तेजी से बाहर फेंक दिए गए। 

    तेज़ी से - अपादान कारक 

3. मैं प्रति क्षण उसमें से निकल भागने की चेष्टा में लगी रहती थी। 

    मैं - कर्ता 

4. वह चाकू से फल काटकर खाता है। 

    चाकू से - करण कारक 

5. बदलू लाख से चूड़ियाँ बनाता है। 

    लाख से - करण कारक