NCERT Solutions for Class 7 Hindi Chapter 8 - Shaam Ek Kishan

Chapter 8 - Shaam Ek Kishan Exercise प्रश्न-अभ्यास

Solution 1

दूसरी एकरूपता - चिलम सूरज-सी 

चौथी एकरूपता - अँगीठी पलाश के फूलों-सी 

पाँचवी एकरूपता - अंधकार भेड़ों के गल्ले-सा। 

Solution 2

क) शाम करीब 6 बजे शुरू हुई।

ख) तब से लेकर सूरज डूबने में करीब एक घंटे का समय लगा।

ग) इस बीच आसमान का रंग लाल और कुछ देर बाद पीले रंग में परिवर्तित हो गया और कुछ देर बाद सूरज आसमान से गायब हो गया और चारों ओर अँधेरा छा गया।

Solution 3

कबूतर - लो भई,अपना ख़त ले लो। 

कौआ - सुनते हो, घर में मेहमान आने वाले हैं। 

मैना - कैसे हो? 

तोता - राम! राम! भाई। 

चील - अरे,वह देखो नीचे क्या पड़ा है। 

हंस - मेरी तरह शांत रहो। 

Solution 4

इस कविता को चित्रित करने के लिए हमें नीले, पीले, भूरे, लाल, सफ़ेद, काले, सुनहरे, हरे, बैंगनी आदि अनेक रंगों की आवश्यकता पड़ेगी। 

Solution 5

पक्षी - अपने-अपने घोसलों में लौट आते हैं। 

खिलाडी - अपने अभ्यास या खेल को समाप्त कर आराम करते हैं। 

फलवाले - अपना सामान जल्दी बेचकर घर जाने का प्रयास करते हैं। 

माँ - अपना काम निबटाकर घरवालों के घर आने की प्रतीक्षा करती है। 

पेड़-पौधे - वे भी विश्राम करना चाहते हैं। 

पिता जी - दफ़्तर से घर की ओर लौटते हैं। 

किसान - दिनभर परिश्रम कर अपने बैलों के साथ घर की ओर लौटता है। 

बच्चे - खेल या अभ्यास करते हैं। 

Solution 6

सर्वेश्वरदयाल जी की कविता और सुमित्रानंदन पंत जी की कविता दोनों में ही संध्याकालीन वर्णन ही किया गया है परन्तु दोनों में मुख्य अंतर यह है कि जहाँ सर्वेश्वरदयाल जी ने संध्याकालीन दृश्य को एक किसान के माध्यम से प्रस्तुत किया है वहीँ सुमित्रानंदन पंत जी ने अपनी कविता में पक्षियों की आवाज को अपनी कविता में प्रधानता दी है। 

Chapter 8 - Shaam Ek Kishan Exercise भाषा की बात

Solution 1

उपर्युक्त पंक्तियों में सा/सी का प्रयोग व्याकरण की दृष्टि से दो रूपों में हुआ है 

चादर-सी, गल्ले-सा, परदा-सा 

इन शब्दों में सा/सी का प्रयोग उपमा के रूप में किया गया है जैसे-नदी चादर-सी अर्थात् नदी चादर के समान 

भेड़ों के गल्ले-सा अर्थात् भेड़ों के झुंड सामान 

पानी-परदा-सा अर्थात् पानी परदे के समान 

दूसरी और स/सी का प्रयोग विशेषण के तौर पर किया गया है जैसे-मरियल-सा कुत्ता अर्थात् कमजोर कुत्ता 

छोटा-सा-दिल अर्थात् छोटा दिल 

नन्हीं-सी चिड़िया अर्थात् छोटी चिड़िया।

Solution 2

आँधी 1. आँधी ने बहुत उत्पात मचाया।

          2. मेरे मन में कशकमश की आँधी चल रही है।


दहक 1. घर के कोने में अँगीठी दहक रही है। 

         2. उसके मन में बदले की आग दहक रही है।


सिमटा-1. राम लाल जी बुढ़ापे के कारण धीरे-धीरे अपना  कारोबार सिमटा रहें हैं। 

           2. पिता के डाँटने पर बालक अपनी माँ की गोद में सिमट गया।